Priyavrat.Thareja

Blog » Pages » copid from ORKUT (contributed by Chander)

Life is @ dre@m-: जिंदगी ये किस मोड पे ले आयी है

जिंदगी ये किस मोड पे ले आयी है,
ना माँ, बाप, बहन, ना यहाँ कोई भाई है,
हर लडकी का है Boy Friend, हर लडके ने Girl Friend पायी है,
चन्द दिनो के है ये रिश्ते, फिर वही रुसवायी है|

घर जाना Home Sickness कहलाता है,
पर Girl Friend से मिलने को रोज Time मिल जाता है,
दो दिन से नही पूछा माँ की तबीयत का हाल,
Girl Friend से पल-पल की खबर पायी है,
जिंदगी ये किस मोड पे ले आयी है…

कभी खुली हवा मे घूमते थे,
अब AC की आदत लगायी है,
धूप हमसे सहन नही होती,
हर कोई देता यही दुहाई है|

मेहनत के काम हम करते नही,
इसीलिये Gym जाने कि नौबत आयी है,
McDonalds, PizzaHut जाने लगे,
दाल-रोटी तो मुशकिल से खायी है,
जिंदगी ये किस मोड पे ले आयी है…

Work Relation हमने बडाये,
पर दोस्तो कि संख्या घटायी है,
Professioanl ने कि है तरक्की,
Social ने मुंह की खायी है,
जिंदगी ये किस मोड पे ले आयी है…

I copied it from some scrap; Chander at ORKUT
Since for creative writing you have an EYE!
Dont mind saying a Hi!
sometimes when we say..’जिंदगी …Jo.. ये किस मोड पे ले आयी है…
May this Hi kabhi true ho Jaye! ( No hindi fonts)

\(priyavrat thareja)

- Posted on March 29th, 2007 in Pages | 2,820 Views |

1 Comment »

One Response to “copid from ORKUT (contributed by Chander)”


1. Posted bygot it here on September 13th, 2012 at 1:16 am

Very nice post. I just stumbled upon your weblog and wanted to say that I’ve really enjoyed surfing around your blog posts. In any case I’ll be subscribing to
your feed and I hope you write again soon!



RSS feed for comments on this post. TrackBack URI


Leave a comment

You must be logged in to post a comment.